FRONTLINE NEWS CHANNEL

Breaking: पंजाब में लगेंगे बिजली के लंबे कट ! छा सकता है बड़ा संकट

पंजाब डेस्क : किसानों के आंदोलन का असर अब पंजाब की बिजली पर पड़ सकता है। पंजाब में जल्द ही बिजली का बड़ा संकट छा सकता है, जिसके चलते लंबे बिजली कट लग सकताे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक थर्मल प्लांटों को कोयले की सप्लाई बंद हो चुकी है। इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आई है कि गोबिंदगढ़ थर्मल प्लांट जाने वाली कोयले से लद्दी हुई मालगाड़ी पिछले 3 दिनों से अम्बाला कैंट रेलवे स्टेशन पर ही खड़ी है। 

जानकारी के अनुसार यह सब कार्रवाई वंदे भारत एक्सप्रेस सहित अन्य मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों को समय पर चलाने के लिए की गई है। रविवार को कैंट रेलवे स्टेशन पर पहुंचने वाली ट्रेनें शाम को पहुंची और शाम को आने वाली ट्रेनें अगले दिन सुबह स्टेशन पर पहुंची। नई दिल्ली से कटरा के बीच चलने वाली 22477 वंदे भारत एक्सप्रेस 17 घंटे लेट तो वहीं अमरनाथ एक्सप्रेस 25 घंटे लेट रही। बताया जा रहा है कि रेलवे कर्मचारियों को ट्रेन के स्टेशन पर पहुंचने के सही समय की जानकारी नहीं है।

आपको बता दें कि पंजाब में किसानों का आंदेलन लगातार जारी है, अपनी मांगों को लेकर किसान शंभु स्टेशन पर डटे बैठे हैं। अम्बाला- लुधियाना रेल सेक्शन पर किसानों को बैठे हुए 19वां दिन है, जिस कारण 145 ट्रेनें प्रभावित रहीं। अपनी मांगों को लेकर किसानों का आंदोलन जारी है। वह पटरियों पर बैठे हुए है, जिस कारण कई ट्रेनें रद्द तो कईयों के रूट बदले गए। ऐसे में अभी तक 3400 से अधिक ट्रेनों का संचालन प्रभावित हो चुका है। रेलवे करोड़ों रुपए तक का नुकसान हो चुका है। रविवार को भी अंबाला कैंट रेलवे स्टेशन से निकलने वाली 145 ट्रेनों का संचालन प्रभावित रहा। इस कारण 64 ट्रेनों को रद्द करना पड़ा, वहीं 81 ट्रेनों को बदले मार्ग से चलाया गया।

अंबाला से चंडीगढ़ के रास्ते साहनेवाल की तरफ जाने वाली मालगाड़ियों का संचालन किया जा रहा था, जिस कारण मेल व एक्सप्रेस ट्रेनें घंटों देरी से चल रही थी। समय को दुरुस्त करने के मकसद से मालगाड़ियों का संचालन कुछ समय के लिए रोका गया है। बताया जा रहा है कि रेलवे ट्रैक की सुरक्षा को लेकर भी अतिरिक्त कर्मचारियों की तैनाती की गई है।

Breaking: There will be long power cuts in Punjab! There could be a big crisis

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *