FRONTLINE NEWS CHANNEL

दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान को ऑस्ट्रेलिया की पार्लियामेंट में किया गया सम्मानित

4 मई नूरमहल (रमेश कुमार) परम पूज्य गुरुदेव श्री आशुतोष महाराज जी की कृपा से दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान के प्रतिनिधियों स्वामी सज्जनानंद जी और डा. सर्वेश्वर जी को विक्टोरिया संसद, मेलबर्न, ऑस्ट्रेलिया द्वारा आमंत्रित किया गया। माननीय Joe McCracken सांसद और अन्य हाई प्रोफाइल सदस्यों ने संसद में स्वामी जी के स्वागत की अध्यक्षता की। पिछले चार दशकों से दुनिया भर में विश्व शांति, सामाजिक सुधार और शिक्षा के क्षेत्र में नि:स्वार्थ भाव से संस्थान द्वारा प्रदान की गई समर्पित सेवाओं के लिए संसद भवन के अंदर सांसदों द्वारा दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान को सुप्रतिष्ठित “गोल्ड सर्टिफिकेट” से सम्मानित किया गया।

ग़ौरतलब है कि दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान एक पंजीकृत, अलाभकारी, गैर-सरकारी, सामाजिक व आध्यात्मिक संगठन है, जिसकी स्थापना गुरुदेव श्री आशुतोष महाराज जी ने 1980 के दशक के उस दौर में पंजाब की भूमि पर की जब पंजाब आतंकवाद की दाहकारी अग्नि में झुलस रहा था। गुरुदेव के आगमन के साथ ही पंजाब ही नहीं अपितु पूरे भारत की फ़िज़ाओं में विश्व शांति के गीतों की स्वर लहरियाँ गूँजने लगीं। देखते ही देखते गुरुदेव के विश्व शांति मिशन की रश्मियां कुछ यूँ फैली की पूरा विश्व इसके प्रकाश से प्रकाशित होने लगा। आज संस्थान की अमेरिका, कनाडा, जर्मनी, इंग्लैण्ड, ऑस्ट्रेलिया सहित पूरे विश्व भर में 350 से अधिक शाखाएं हैं और 10,000 से भी अधिक पूर्णकालिक प्रचारक हैं जो अपने स्वार्थों को तिलांजलि दे सम्पूर्ण विश्व को अमृत की बूंदें बाँटने को निकल पड़े हैं। संस्थान के विश्वभर में लाखों-करोड़ों अनुयायी हैं जो अपनी गृहस्थी के कर्त्तव्य निभाते हुए भी विश्व-कल्याण को कटिबद्ध हैं। संस्थान आध्यत्मिक गतिविधियों के साथ-साथ 10 से अधिक सामाजिक प्रकल्पों का भी सफलतापूर्वक निर्वहन कर रहा है, जिसमें मंथन- अभावग्रस्त बच्चों के लिए सम्पूर्ण शिक्षा कार्यक्रम; अन्तरक्रांति- बन्दी सुधार कार्यक्रम; अंतर्दृष्टि- दिव्यांग व नेत्रहीन वर्गार्थ कार्यक्रम; कामधेनु- देसी गो संरक्षण कार्यक्रम, इत्यादि प्रमुख हैं।
संस्थान के इन्हीं निःस्वार्थ प्रयासों से प्रभावित हो विक्टोरिया संसद, ऑस्ट्रेलिया ने संस्थान को यह प्रतिष्ठित अवॉर्ड प्रदान किया।
इस विशेष अवसर पर Minister Bev McArthur (Shadow Assistant Minister for Government Scrutiny, Shadow parliamentary Secretary for Roads and Road Safety), Mr. Nick McGowan, सांसद इत्यादि भी उपस्थित रहे। सांसदों के साथ संस्थान के प्रतिनिधियों और स्वयंसेवकों के लिए एक विशेष मीटिंग का भी आयोजन किया गया, जहां सांसदों को संस्थान के सामाजिक प्रकल्पों पर जानकारी प्रदान की गई। सांसद मैक्रेकेन ने प्रतिनिधियों को संसद का विस्तृत दौरा भी करवाया। इस अवसर पर स्वामी जी ने विक्टोरिया के सांसदों का मार्गदर्शन किया और “आत्म-जागृति से विश्व शांति” के ध्येय का संदेश भी प्रदान किया।

Divya Jyoti Jagrati Sansthan honored in the Parliament of Australia

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *