FRONTLINE NEWS CHANNEL

हंसते-बसते घर में गूंजीं चीखें, परिवार वालों ने CM भगवंत मान से की यह अपील

फ्रंट लाइन (मोगा) गत रात मोगा के जीरा रोड के रहने वाले अभि (17) की नशे की ओवरडोज के साथ मौत हो गई। मृतक के दादा छिन्दा ईसा मसीह ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते बताया कि उनका पोता रात साधांवाली बस्ती में रहने वाले बिल्ला नामी नौजवान के पास गया था, जहां उसने नशे का टीका लगा लिया और ओवरडोज कारण मौके पर उसकी मौत हो गई। जब उन्हें घटना का पता लगा तो उसे उठा कर घर लाए परन्तु तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। मृतक के दादा ने कहा कि उक्त नौजवानों की चिट्टे के नशो का टीके लगाने की वीडियो भी वायरल हुई है। पुलिस को इसके आधार पर जरूर कार्यवाही करनी चाहिए। उक्त बुजुर्ग ने कहा कि सरकारों को चाहिए कि नशे को जड़ से ख़त्म किया जाए जिससे इस उसके पोते की तरह और माताओं के पुत्र न जाएं और न ही हंसते-बसते घर उजड़ें।
बेटे की मौत के बाद परिवार का रो-रो कर बुरा हाल है। मृतक की मां और दादी ने कहा कि गत दिन उनका बेटा 7 बजे घर से जूते लेने गया था, जहां कुछ नशे के आदी नौजवानों ने उसे अपने साथ ले जाकर उसे नशे का टीका लगा दिया जिस कारण उनके बच्चे की मौत हो गई है। उन्होंने कहा कि जिन्होंने उनका घर उजाड़ा है उन पर सख्त कार्यवाही होनी चाहिए।
इस मौके पर मल्ला निवासी बलदेव सिंह ने कहा कि साधांवाली बस्ती मोगा में बड़े स्तर पर चिट्टे की बिक्री हो रही है। उन्हें उम्मीद थी कि नई सरकार आएगी और चिट्टे का नशा बंद होगा परन्तु बंद होने की बजाय यह नशा पहले की अपेक्षा से भी अधिक बिकने लग पड़ा है। उन्होंने कहा कि वह पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान से अपील करते हैं कि नशे के तस्करों को जड़ से खत्म किया जाए जिससे मोगे में नौजवानों को इस नशे की दलदल में से बाहर निकाला जा सके। जब नशा बेचने वाले तस्कर सलाखों के पीछे होंगे तभी नशा बंद होगा।
क्या कहना है पुलिस का
इस मौके पर जांच अधिकारी बसंत सिंह ने कहा कि उनको सूचना मिली थी कि एक नौजवान की साधांवाली बस्ती में ओवरडोज कारण मौत हो गई है। पुलिस की तरफ से उक्त की शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है। परिवार के बयानों के आधार पर आगे वाली कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.